रक्षाबंधन त्यौहार रक्षा के वादों का

1914
"जिस दिन अखबार में छपेगा की "देश में नहीं हुआ पिछले एक साल से बलात्कार" तब उस दिन सफल होगा रक्षाबंधन का त्योहार"

रिश्ता हम भाई बहन का, कभी खट्टा कभी मीठा, कभी रूठना कभी मनाना, कभी दोस्ती कभी झगड़ा, कभी रोना और कभी हसाना, ये रिश्ता है प्यार का, सबसे अलग सबसे अनोखा

Online Internship with Certification

Important Announcement – EasyShiksha has now started Online Internship Program “Ab India Sikhega Ghar Se

How EasyShiksha Internship/Training Program Works
How EasyShiksha Internship/Training Program Works

मेरां भई चँदा सें भीं प्यारा, मेरां भई सुरज से भी नयारा।
भई ने दीया ईतना पयार, यह जिवन मैने उसपे वारा।
जिवन तो मा ने दीया मग्र, भई ने ही इसे सवारा।
राखी के दीन दुआ है मेरि, खुशीयों से भर जाये उसका जहा सारा।

रक्षाबंधन भाई बहन का प्यारा सा त्यौहार है। हिन्दू मान्यताओं के अनुसार यह त्यौहार भाई और बहन को समर्पित है। रक्षाबंधन शब्द रक्षा + बंधन से मिलकर बना है।

रक्षा किसे कहते है?
रक्षा का अर्थ होता है, विकट परिस्थिति या प्रतिकूल प्रस्थिति में आपके लिए सदैव तत्पर रहना रक्षा कहलाता है। रक्षा करने वाला अपने प्राणो की भी चिंता किये बिना अपना कार्य धंर्म निभाता है।

बंधन किसे कहते है ?
बंधन एक प्रकार का संकल्प है, जिसे प्रतिज्ञा की भांति माना जाता है।

“माथे पर टिका, कलाई पर राखी, मुंह पर मुस्कान, दिल में प्यार, रक्षा के वचन संग बहन को उपहार, यही है रक्षाबंधन का त्यौहार।”

“राखी का बंधन प्रेम का बंधन, राखी है हजारो खुशियों का बंधन, रक्षा का वादा है रक्षाबन्धन।”

“तुम इतने अलग हो सकते हो जितने सूरज और चंद्रमा, लेकिन तुम दोनों के दिलों से एक ही खून बहता है। तुम्हे उसकी ज़रूरत है, जैसे उसे तुम्हारी ज़रूरत है।”

“हर दिन मांगता हूं आपकी सलामती मेरी बहना। मान, प्रतिष्ठा, धन, वैभव बने आपकी जीवन का गहना।”

Top Courses in Computer Science Engineering

Top Courses in Software Engineering

Loading...

More Courses With Certification

“विश्वास का धागा, प्यार का धागा, खुशियों का धागा, यादों का धागा, दोस्ती का धागा, मन का धागा, भाई की कलाई पर बहन ने प्रेम से बांधा। रक्षाबंधन की बहुत-बहुत शुभकामनाएं”

“रक्षाबंधन की राखी के साथ भाई के जीवन में हर खुशी बांधती हूं। मान, सम्मान और दुनिया में मौजूद सात आसमान बांधती हूं।”

“दुआ मैं रब से मांगती हु, और पूरी करता है भाई, यही है भाई बहन का प्यारा रिश्ता।”

“साथ पले और साथ बड़े हुए, खूब मिला बचपन में प्यार, भाई-बहन का प्यार बढ़ाने, आया राखी का त्यौहार…”

“धागे के अटूट बंधन में, बांधती हूं अपना आर्शीवाद। मेरा भाई हमेशा स्वस्थ रहे, रहे उसके जीवन में खुशियों को उन्माद।”

“बहन का प्यार किसी दुआ से कम नहीं होता, वो चाहे कितनी भी दूर हो पर प्यार कम नहीं होता। रक्षाबंधन की शुभकामनाएं..”

“चन्दन की डोरी, सावन के झूले, ठंडी हवा का झोंका, हो रहा है रिश्तो, का अनूठा संगम, आ गया राखी का त्यौहार।”

“मेरी बहन तुझे बहुत-बहुत प्यार, सुखी रहे तेरा घर-संसार। वादा है तेरे भाई का संसार की हर बहन को रक्षा और सुरक्षा दूंगा अपार।”

“मन में उल्लास और उमंग हो हाथ में थाली, रोली रक्षा सूत्र संग हो भाई-बहन के प्यार का ये बंधन आजीवन हमारे संग हो

रक्षाबंधन की ढेर सारी शुभकामनाएँ”

“सावन की रिमझिम फुहार के बीच पुष्पों में नई आभा निखरती है भाई-बहन की मीठी तकरार के बीच

प्यार की खुशियाँ खनक उठती है. रक्षाबंधन की ढेर सारी शुभकामनाएँ”

“वो बहन खुशकिस्मत होती है। जिसके सर पर भाई का हात होता है, हर मुश्किल में उसके साथ होता है, लड़ना झगड़ना और फिर प्यार से मानना तभी तो इस रिश्ते में इतना प्यार होता हैं।”

“बहन का प्यार एक सफ़ेद रोशनी है, जिसमे हमारे बचपन कि किलकारियां एक संगीत बनकर गूंजती है!”

“भाई परेशान करते हैं, इंटरफीयर करते हैं। कभी ना भूलने वाली उदासी, गुस्से और मजाक में लिप्त होते हैं। उधार लेते हैं। आपकी चीजें तोडते हैं। परीशान करते हैं। लेकिन अगर मुसीबत आती है, तब सबसे पहले वही मौजूद होते हैं। आपकी सभी लोगों से रक्षा करते हैं।”

“चन्दन की डोरी फूलों का हार, आये सावन का महिना और राखी का त्यौहार, जिसमे है झलकता भाई-बहन का प्यार…”

“तुम इतने अलग हो सकते हो जितने सूरज और चंद्रमा, लेकिन तुम दोनों के दिलों से एक ही खून बहता है। तुम्हे उसकी ज़रूरत है, जैसे उसे तुम्हारी ज़रूरत है।”

“एक खुशहाल परिवार से बड़ा कोई धन नहीँ, पिता से बड़ा कोई सलाहकार नहीं, माँ की ममता से बड़ा कोई प्यार नहीं, भाई से अच्छा कोई भागीदार नहीं, इसीलिए “परिवार” के बिना जीवन नहीँ!”

“वो बहन खुशकिस्मत होती है, जिसके सर पर भाई का हात होता है, हर मुश्किल में उसके साथ ..”

कभी हमसे लड़ती है, कभी हमसे झगड़ती है, लेकिन बिना कहे हमारी हर बात को समझने का हुनर भी बहन ही रखती है।”

“राखी कर देती है, सारे गिले-शिकवे दूर …इतनी ताकतवर होती है कच्चे धागों की पावन डोर”

“अक्सर रिश्ते दूरियों से फीके पड़ जाते हैं, पर बहन-भाई का प्यार कभी कम नहीं होता..”

“बहनें ही परिवार का सबसे कॉम्पटीटिव रिश्ता होती हैं, लेकिन जब बहनें बड़ी हो जाती हैं, ये सबसे मजबूत रिश्ता बना जाता है।”

“याद है हमारा वो बचपन, वो लड़ना – झगड़ना और वो मना लेना,यही होता है भाई – बहन का प्यार, और इसी प्यार को बढ़ाने के लिए आ रहा है रक्षा बंधन का त्यौहार। …”

“तोड़े से भी ना टूटे जो ऐसा ये मन – बंधन है, इस बंधन को सारी दुनिया कहती रक्षाबंधन हैं!! तुम भी इस कच्चे धागे का मान जरा-सा रख लेना, कम से कम राखी के दिन बहाना का रस्ता तक लेना!!”

“बहनें हसीं बांटती हैं और आंसू पोंछती है अच्छे दोस्त मिलेंगे और बिछड़ जायेंगे, लेकिन एक बहन हमेशा सच्चे दोस्त की तरह साथ देती है..”

Empower your team. Lead the industry

Get a subscription to a library of online courses and digital learning tools for your organization with EasyShiksha

Request Now
Frequently Asked Questions

ALSO READ: indian-independence-day-2021

Get Course: Introduction-to-Virtual-Reality

Download this article as PDF to read offline: